बिहार चुनाव परिणामः ‘‘बिहार बनाम बाहरी’’ का मुद्दा निपट गया

बिहार विधानसभा के चुनाव में मोदी की दखल ने इसे ‘बिहारी बनाम बाहरी’ का चुनाव बना दिया। जेडीयू, राजेडी और कांग्रेस के महागठबंधन ने बिहारी नीतीश कुमार के नतृत्व में चुनाव लड़ा और भारतीय जनता पार्टी तथा उसके सहयोगियों में आपसी समझ में कमी के कारण चुनाव मोदी के नाम पर लड़ा गया और इस लड़ाई में बाहरी के मुकाबले बिहारी को जीत मिली। अब नीतीश कुमार तीसरी बार बिहार के मुख्यमंत्री बनने जा रहे हैं।

विधानसभा की 243 सीटों में से महागठबंधन 178 के साथ करीब तीन चौथाई बहुमत से जीता है तो संप्रग को कुल 58 सीटों पर सबर करना पड़ा। वामदलों को 4 तो अन्य को तीन सीटें मिली हैं। महागठबंधन की जीत में सभी दलों ने अपना सहयोग किया है जबकि संप्रग को मिली सीटों में भाजपा को 53 तो बाकी दलों को 5 सीटें मिली हैं। इसमें हम पार्टी के जीतनराम मांझी अकेले ही जीते हैं।

जीत के बाद नीतीश कुमार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि यह यह बिहार के स्वाभिमान की जीत है। हमें समाज के हर तबके का समर्थन मिला है, ये साफ है कि लोगों के मन में आशा है। नीतीश ने कहा, हमारे मन में किसी के प्रति दुर्भावना नहीं है, हम सकारात्मक सोच के साथ काम करेंगे।

वहीं आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव ने मीडिया से बात करते हुए कहा, बिहार के अगले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ही होंगे, हम बिहार के विकास के लिए मिलकर मेहनत से काम करेंगे। नीतीश कुमार खासतौर पर लालू से मिलने उनके घर पहुंचे, जहां लालू ने बड़ी गर्मजोशी से गले मिलकर उनका स्वागत किया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नीतीश कुमार को फोन कर बधाई दी। इसके तुरंत बाद नीतीश कुमार ने ट्वीट किया, ‘‘अभी-अभी प्रधानमंत्री का फोन आया और उन्होंने मुझे बधाई दी… धन्यवाद मोदीजी।’’

बिहार विधानसभा चुनाव में हार को स्वीकार करते हुए बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव को उनकी प्रभावशाली विजय के लिए बधाई दी और कहा कि उनका दल जनादेश का सम्मान करता है।

केंद्रीय मंत्री और पार्टी के वरिष्ठ नेता प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि विपक्ष की एकता ने हमें हरा दिया है। बिहार बीजेपी के नेता सुशील कुमार मोदी ने हार स्वीकार करते हुए कहा कि पार्टी जनता के जनादेश के आगे नतमस्तक है। उन्होंने लालू और नीतीश को उनकी जीत के लिए बधाई दी।

बीजेपी सांसद रामकृपाल यादव ने भी कहा कि हम हार स्वीकार कर रहे हैं। बिहार के नतीजों के बाद बीजेपी के नाराज सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने ट्वीट किया, यह बिहार के लोगों और लोकतंत्र की जीत है। बिहार बनाम बाहरी का मुद्दा निपट गया।