Home » Archives by category » रंगमंच
राजनैतिक ‘बिसात’ पर लाशों की राजनीति

राजनैतिक ‘बिसात’ पर लाशों की राजनीति

जयपुर। 18 नवम्बर। स्थान रवींद्रमंच। ‘‘राजनीति जनता की भलाई के लिए होनी चाहिए’’ चाणक्य के इस आप्त वाक्य को वरिष्ठ रंगकर्मी हेमंत थपलियाल अपने नाटक…

फ्राइडे थिएटर में चाणक्य

फ्राइडे थिएटर में चाणक्य

जयपुर। स्थान-रवींद्रमंच। फ्राइडे थिएटर में इस बार वरिष्ठ रंगकर्मी अशोक राही लिखित और निर्देशित नाटक ‘विष्णुगुप्त चाणक्य’ का मंचन किया गया। राही ने इसमें चाणक्य…

नाटक ‘पहला और आखिरी’: न्यायिक व्यवस्था पर कटाक्ष

नाटक ‘पहला और आखिरी’: न्यायिक व्यवस्था पर कटाक्ष

रवींद्रमंच पर बुधवार की शाम रूसी लेखक जॉन गॉल्सवर्दी के नाटक के हिंदी रूपांतरण ‘पहला और आखिरी’ का मंचन किया गया। सुनील माथुर निर्देशित इस…

पीर गनीः भटके हुए कश्मीरी नौजवान का पश्चाताप

पीर गनीः भटके हुए कश्मीरी नौजवान का पश्चाताप

जयपुर, 2 अप्रेल। स्थानः विद्याश्रम स्कूल का महाराणा प्रताप सभागार। के. के. रैना के निर्देशन में कश्मीर के भटके नौजवानों को देश से जोड़ने का…

‘आख्यान’: सचिन दा की याद और मुंशी प्रेमचंद की ईदगाह

‘आख्यान’: सचिन दा की याद और मुंशी प्रेमचंद की ईदगाह

जयपुर 16 मार्च। स्थानः रवीन्द्र मंच स्टूडियो थियेटर। छोटा ही सही, लेकिन खचाखच भरा स्टूडियो इस बात का गवाह रहा कि नाटक तथाकथित रंगमंचकर्मियों की…

‘वेटिंग फोर गोडो’: बेकेट खेलने का साहस

‘वेटिंग फोर गोडो’: बेकेट खेलने का साहस

स्थान रवींद्र मंच, जयपुर 14 दिसम्बर। पिछली सदी के पांचवे और छठे दशक में यथार्थ और फिक्शन पर आधारित नाटकों की प्रतिक्रियास्वरूप यारोप में कुछ…

तीसरी कसम: तौबा नौटंकीवाली से

तीसरी कसम: तौबा नौटंकीवाली से

4 ऑक्टोबर सायं 6.30 बजे जवाहर कला केन्द्र के रंगमंच पर फणीश्वर ‘रेणु’ की कहानी तीसरी कसम उर्फ मारे गये गुलफाम के पुंज प्रकाश द्वारा…

‘ताजमहल….’ नौकरशाही में उलझा

‘ताजमहल….’ नौकरशाही में उलझा

पिछले 27 वर्षों से सार्थक थियेटर ग्रुप राजस्थान के कला जगत में सार्थक नाटकों के साथ जनजागृति में संलग्न है। इस दौरान सार्थक ने हर…

Page 1 of 212