Home » Archives by category » पुनः
चैन्नई बाढ़ः झीलों पर अतिक्रमण

चैन्नई बाढ़ः झीलों पर अतिक्रमण

–रवीश कुमार की कलम से: साभार एनडीटीवी– चीजें वैसी ही चलती रहेंगी लेकिन हमारी ख़ूबी ये है कि हम एक दिन के लिए तो जागते…

सहिष्णुता नापने का मोदी पैमाना

सहिष्णुता नापने का मोदी पैमाना

——प्रियदर्शन की कलम से, एनडीटीवी से साभार—— लंदन में पत्रकारों से बातचीत के दौरान भारत में बढ़ती असहिष्णुता को लेकर पूछे गये प्रश्न पर प्रधानमंत्री…

मैं बताता हूं बिहार में कौन जीतेगा!

मैं बताता हूं बिहार में कौन जीतेगा!

–रवीश कुमार की कलम से: साभार एनडीटीवी– इस बात की सटीक भविष्यवाणी कर देने का जुनून चुनाव लड़ने वालों से ज्यादा खतरनाक होता है। कौन…

वे आए तो जंगलराज, ये आएं तो दंगाराज

वे आए तो जंगलराज, ये आएं तो दंगाराज

———————-रवीश कुमार की कलम से—————————— ‘बंगलुरू से सॉफ्टवेयर इंजीनियर की नौकरी छोड़कर अपनी ज़मीन पर आ गया। जितना वहां कमाया था,  उससे एक होटल खोल…

‘लेफ्ट-राइट’ के खांचों में छात्र

‘लेफ्ट-राइट’ के खांचों में छात्र

—-एनडीटीवी के रवीश कुमार से साभार—- चुनावी राजनीति में अगर कोई तरीके से उल्लू बनता है तो वो है हमारा युवा। पहले उसे नारेबाजी के…

जातिगत आंकड़े जाहिर क्यों नहीं?

जातिगत आंकड़े जाहिर क्यों नहीं?

—-साभार एनडीटीवी, रवीश कुमार—- नयी दिल्ली, 14 जुलाई। हमारी राजनीति कब राष्ट्रवादी हो जाती है और कब जातिवादी इसका संबंध इस बात से है कि…